अर्थ डे

World Earth Day 2024: वर्ल्ड अर्थ डे हर साल 22 अप्रैल को मनाया जाता है. इसका उद्देश्य पर्यावरण के संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक करना है.

World Earth Day 2024: वर्ल्ड अर्थ डे हर साल 22 अप्रैल(World Earth Day 2024) को मनाया जाता है. इसका उद्देश्य पर्यावरण के संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक करना है. इस दिन दुनिया भर में तरह-तरह के प्रोग्राम आयोजित किए जाते हैं. पृथ्वी प्राकृतिक सौन्दर्य से एक खूबसूरत ग्रह है. यहां हरे-भरे जंगल, लुभावने झरने, ऊबड़-खाबड़ लेकिन शांत पहाड़ के साथ रेत भी हैं. हमें इनको बचाने के लिए हर दिन प्रयास करना चाहिए. इस दिन को खास दिखाने के लिए गूगल ने एक डूडल बनाया है.

क्या है इस दिन का इतिहास?

इस दिन को सबसे पहले संयुक्त राष्ट्र अमेरिका में मनाया गया था. सबसे पहले साल 1970 को 22 अप्रैल को इस दिन को मनाया गया. सबसे पहले 1969 में युनेस्को सम्मेलन में शांति कार्यकर्ता जॉन मैककोनेल ने इस दिन को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए इस खास दिन को मनाने का प्रस्ताव रखा था.

क्या है इस बार का थीम?
हर खास दिन को मनाने के लिए एक खास थीम तय की जाती है. इस साल की थीम‘प्लेनेट वर्सेज प्लास्टिक’था. प्लेनेट वर्सेस का मकसद लोगों को सिंगल यूज प्लास्टिक को लेकर जागरूक करना है.

क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड अर्थ डे?
इस खास दिन को मनाने का विचार अमेरिकी सीनेटर गेलॉर्ड नेल्सन और हार्वर्ड के छात्र डेनिस हेस को सबसे पहले आया था. वे दोनों संयुक्त राज्य अमेरिका में बिगड़ते माहौल और जनवरी 1969 में सांता बारबरा, कैलिफोर्निया में बड़े पैमाने पर तेल रिसाव से बहुत परेशान थे. इस दिन लाखों लोग एक साथ मिलकर पृथ्वी को नुकसान पहुंचाने वाली चीजें जैसे कि पेड़ों की कटाई जैसे मुद्दों पर चर्चा करते हैं. इस मौके पर दुनियाभर में तरह तरह के कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं. पृथ्वी दिवस मनाने का मकसद लोगों को धरती की अहमियत से अवगत कराना है. इसके साथ ही इसे हरा भरा और सुंदर बनाए रखने के लिए क्या क्या स्टेप्स लिए जाते हैं, इसके बारे में भी बात होती है.

आज हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसी एक्टिविटी के बारे में जिन्हें अपनाकर आप पृथ्वी के संरक्षण में अपना योगदान दे सकते हैं.
ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं- आज के समय में बढ़ती आबादी के कारण हर दिन पेड़ों की कटाई हो रही है. इसके साथ ही हर दिन ग्लोबल वार्मिंग की समस्या बढ़ते जा रही है. इसलिए जरूरी है कि आप अपने जीवन में ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं और लोगों को इसके बारे में जागरूक करें.

ऊर्जा संरक्षण पर दें ध्यान

दिन के समय ज्यादा से ज्यादा लाइट बंद कर रखें. अगर आपके कमरे या ऑफिस में सूरज की रोशनी आती है तो आप उसका इस्तेमाल करें. जरूरत न होने पर लाइट और इलेक्ट्रॉनिक्स ऑफ कर दें.

कम से कम पानी का इस्तेमाल करें

कई लोगों को बहुत ज्यादा पानी इस्तेमाल करने की आदत होती है. लेकिन आपको ये समझ लेना चाहिए कि हमारी धरती पर एक पर्याप्त मात्रा में पानी मौजूद है. इसका हम सही से उपयोग नहीं करेंगे तो आने वाले समय में काफी परेशानी हो सकती है. जब उपयोग न हो तो नल बंद कर रखें. स्नान करते समय बेवजह पानी ने बर्बाद करें. घर में कहीं लीक हो तो इसे ठीक करा लें.

पानी की बोतल खरीदना करें बंद

आज के समय में हर दिन लाखों लोग पानी की बोतल खरीदते हैं. दुनिया भर में हर मिनट लगभग 1 मिलियन लोग प्लास्टिक पीने की बोतल खरीदते हैं. इससे बचने का सबसे बड़ा उपाय है कि घर से निकलने से पहले अपने साथ पानी की बोतल लेकर निकले,

कम से कम ट्रांसपोर्ट का करें इस्तेमाल

आज के समय में ज्यादातर घरों में आपको गाड़ी दिख जाएंगे. लोग कम दूरी के लिए भी कर, बाइक का इस्तेमाल करते हैं. जितना हो सके पैदल चलें.

घर के बालकनी या छत पर अपना गार्डन शुरू करें

आज के समय में आपको कई घरों के छत और बालकनी में फल और सब्जियां दिख जाएंगी. घर पर खाद बनाने का प्रयास करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *